A A A A A

दिन का पद्य

रोमी 8:32
परमेश्‍वर अपन निज पुत्र केँ जँ बँचा कऽ नहि रखलनि, बल्‍कि अपना सभ गोटेक लेल दऽ देलनि, तखन की ओ खुशी सँ अपना पुत्रक संग सभ किछु अपना सभ केँ नहि देताह?