A A A A A

दिन का पद्य

प्रकाशित-वाक्‍य 1:8
प्रभु-परमेश्‍वर कहैत छथि जे, “शुरुआत और अन्‍त हमहीं छी। हम वैह छी, जे छथि, जे छलाह, जे आबहो वला समय मे रहताह—वैह, जे सर्वशक्‍तिमान छथि।”