A A A A A
Facebook Instagram Twitter
اردو بائبل 2017

۲ کرنتھیوں ۷



۱
पस ऐ' अज़ीज़ो चुँकि हम से ऐसे वा'दे किए गए, आओ हम अपने आपको हर तरह की जिस्मानी और रूहानी आलूदगी से पाक करें और ख़ुदा के बेख़ौफ़ के साथ पाकीज़गी को कमाल तक पहुँचाऐँ।
۲
हम को अपने दिल में जगह दो हम ने किसी से बेइन्साफ़ी नहीं की किसी को नहीं बिगाड़ा किसी से दग़ा नहीं की।
۳
मैं तुम्हें मुजरिम ठहराने के लिए ये नहीं कहता क्यूँकि पहले ही कह चुका हूँ कि तुम हमारे दिलों में ऐसे बस गए हो कि हम तुम एक साथ मरें और जियें।
۴
मैं तुम से बड़ी दिलेरी के साथ बातें करता हूँ मुझे तुम पर बड़ा फ़ख़्र है मुझको पूरी तसल्ली हो गई है; जितनी मुसीबतें हम पर आती हैं उन सब में मेरा दिल ख़ुशी से लबरेज़ रहता है।
۵
क्यूँकि जब हम मकिदुनिया में आए उस वक़्त भी हमारे जिस्म को चैन न मिला बल्कि हर तरफ़ से मुसीबत में गिरफ़्तार रहे बाहर लड़ाइयां थीं और अन्दर दहशतें।
۶
तोभी आ'जिज़ों को तसल्ली बख़्शने वाले या'नी ख़ुदा ने तितुस के आने से हम को तसल्ली बख़्शी।
۷
और न सिर्फ़ उसके आने से बल्कि उसकी उस तसल्ली से भी जो उसको तुम्हारी तरफ़ से हुई और उसने तुम्हारा इश्तियाक़ तुम्हारा ग़म और तुम्हारा जोश जो मेरे बारे में था हम से बयान किया जिस से मैं और भी ख़ुश हुआ।
۸
गरचे, मैंने तुम को अपने ख़त से ग़मगीन किया मगर उससे पछताता नहीं अगरचे पहले पछताता था चुनाँचे देखता हूँ कि उस ख़त से तुम को ग़म हुआ गरचे थोड़े ही अर्से तक रहा।
۹
अब मैं इसलिए ख़ुश नहीं हूँ कि तुम को ग़म हुआ, बल्कि इस लिए कि तुम्हारे ग़म का अन्जाम तोबा हुआ क्यूँकि तुम्हारा ग़म ख़ुदा परस्ती का था, ताकि तुम को हमारी तरफ़ से किसी तरह का नुक़्सान न हो। ।
۱۰
क्यूँकि ख़ुदा परस्ती का ग़म ऐसी तोबा पैदा करता है; जिसका अन्जाम नजात है और उस से पछताना नहीं पड़ता मगर दुनिया का ग़म मौत पैदा करता है।
۱۱
पस देखो इसी बात ने कि तुम ख़ुदा परस्ती के तौर पर ग़मगीन हुए तो मैं किस क़दर सरगर्मी और उज़्र और ख़फ़्गी और खौफ़ और इश्तियाक़ और जोश और इन्तिक़ाम पैदा किया; तुम ने हर तरह से साबित कर दिखाया कि तुम इस काम में बरी हो।
۱۲
पस अगरचे मैंने तुम को लिखा था मगर न उसके बारे में लिखा जिसने बे इन्साफी की और न उसके ज़रिए जिस पर बे इन्साफी हुई बल्कि इस लिए कि तुम्हारी सरगर्मी जो हमारे वास्ते है ख़ुदा के हुज़ूर तुम पर ज़ाहिर हो जाए।
۱۳
इसी लिए हम को तसल्ली हुई है और हमारी इस तसल्ली में हम को तितुस की ख़ुशी की वजह से और भी ज़्यादा ख़ुशी हुई क्यूँकि तुम सब के ज़रि'ए उसकी रूह फिर ताज़ा हो गई।
۱۴
और अगर मैंने उसके सामने तुम्हारे बारे में कुछ फ़ख़्र किया तो शर्मिन्दा न हुआ बल्कि जिस तरह हम ने सब बातें तुम से सच्चाई से कहीं उसी तरह जो फ़ख़्र हम ने तितुस के सामने किया वो भी सच निकला।
۱۵
और जब उसको तुम सब की फ़रमाबरदारी याद आती है कि तुम किस तरह डरते और काँपते हुए उस से मिले तो उसकी दिली मुहब्बत तुम से और भी ज़्यादा होती जाती है।
۱۶
मैं खुश हूँ कि हर बात में तुम्हारी तरफ़ से मुतमइन हूँ।











۲ کرنتھیوں ۷:1

۲ کرنتھیوں ۷:2

۲ کرنتھیوں ۷:3

۲ کرنتھیوں ۷:4

۲ کرنتھیوں ۷:5

۲ کرنتھیوں ۷:6

۲ کرنتھیوں ۷:7

۲ کرنتھیوں ۷:8

۲ کرنتھیوں ۷:9

۲ کرنتھیوں ۷:10

۲ کرنتھیوں ۷:11

۲ کرنتھیوں ۷:12

۲ کرنتھیوں ۷:13

۲ کرنتھیوں ۷:14

۲ کرنتھیوں ۷:15

۲ کرنتھیوں ۷:16







۲ کرنتھیوں 1 / ۲کرنتھیوں 1

۲ کرنتھیوں 2 / ۲کرنتھیوں 2

۲ کرنتھیوں 3 / ۲کرنتھیوں 3

۲ کرنتھیوں 4 / ۲کرنتھیوں 4

۲ کرنتھیوں 5 / ۲کرنتھیوں 5

۲ کرنتھیوں 6 / ۲کرنتھیوں 6

۲ کرنتھیوں 7 / ۲کرنتھیوں 7

۲ کرنتھیوں 8 / ۲کرنتھیوں 8

۲ کرنتھیوں 9 / ۲کرنتھیوں 9

۲ کرنتھیوں 10 / ۲کرنتھیوں 10

۲ کرنتھیوں 11 / ۲کرنتھیوں 11

۲ کرنتھیوں 12 / ۲کرنتھیوں 12

۲ کرنتھیوں 13 / ۲کرنتھیوں 13