A A A A A
यूहन्‍ना 16
14
ओ हमर महिमा प्रगट करताह कारण जतेक बात ओ अहाँ सभ केँ कहताह, से हमरा सँ लऽ लेने रहताह।
Maithili Bible 2010