दिन का पद्य

भजन संहिता १३९:९
यदि मैं भोर की किरणों पर चढ़कर समुद्र के पार जा बसूं,